Try at least once

एक बार try तो कर, एक नाकाम कोशिश तो कर


हेनरी फोर्ड का नाम तो सुना होगा

दोस्तों आपने हेनरी फोर्ड का नाम तो सुना होगा वो एक विश्वप्रसिद्ध मोटर कंपनी फोर्ड के मालिक थे।  और फोर्ड को विश्वप्रशिद्ध बनाने में हेनरी का बहुत बड़ा योगदान था। फोर्ड की इसी यात्रा में एक वाकया ऐसा है जिसे आपको जरूर सुन्ना चाहिए और उसके बाद ही फोर्ड दुनिया की नंबर एक मोटर कंपनी बनी थी।  हुआ यूं कि एक बार हेनरी फोर्ड एक ऐसा इंजन बनाना चाहते थे, जिस के आठों सिलेंडर एक ही ब्लॉक में हों| उन्होंने अपने इंजीनियरों को बुलाया |  इंजीनियरों ने उनसे कहा कि यह नहीं हो पायेगा ये तो असंभव है फिर भी उन्होंने एक प्रयास कर लेते है। कुछ दिन बाद हेनरी ने जब दोबारा पुछा तो इंजीनियर ने साफ़ मना कर दिया। उसके बाद कहते है कि हेनरी फोर्ड  टस से मस नहीं हुए| उन्होंने इंजीनियरों से कहा कि संभव हो या असंभव, यह काम हर हाल में करना ही है| मन मारकर इंजीनियरों ने 1 साल तक मेहनत की, लेकिन वे सफल नहीं हुए| 1 साल बाद जब इंजीनियरों ने Henry Ford को बताया, कि उन्हें ना तो कामयाबी मिली है, ना इसकी कोई उम्मीद है| तब भी Henry Ford का हौसला पस्त नहीं हुआ, उन्होंने मुस्कुराकर अपने इंजीनियरों से कहा कि वे इस काम में तब तक जुटे रहें जब तक कि कामयाब ना हो जाए।

और आखिरकार एक दिन इंजीनियर वी 8 मोटर इंजन बनाने में सफल हो गए, जिसकी बदौलत उन्होंने कार जगत में तहलका मचा दिया।

दोस्तों ये सब इसीलिए हो पाया क्योंकि हेनरी फोर्ड ने हार नहीं मानी और हमेशा प्रयास करने के लिए कहा उन्हें उन्हें अपनी सोच पर पूरा भरोसा था कि असंभव कुछ भी नहीं बस मुश्किल है प्रयास करना।

दोस्तों ऐसे हमारे कितने ही काम होते है जो सिर्फ प्रयास न करने की वजह से  नहीं हो पाते।

एडिसन  बल्ब बनाने में 10 हजार बार से अधिक बार असफल हुए

अगर हम इतिहास पर नज़र डाले तो हमे ऐसे अनगिनत उदाहरण मिल जायेंगे जब लोगो के प्रयास करते रहने की वजह से असंभव से कार्य  संभव हो पाए। और इसका सबसे सटीक उदाहरण थॉमस एल्वा एडिशन है  बिजली के बल्ब के आविष्कार करने में उन्हें कड़ी मेहनत करनी पड़ी. एडिसन  बल्ब बनाने में 10 हजार बार से अधिक बार असफल हुए. लेकिन उन्होंने खुद को मोटिवेटेड रखने के लिए जो फिलोसोफी अपने दिमाग में सेट की हुई थी उसका मैं फैन हो गया उन्होंने १०००० बार असफल होने के बाद  कहा ‘मैं कभी नाकाम नहीं हुआ बल्कि मैंने 10,000 ऐसे रास्ते निकाले लिए जो मेरे काम नहीं आ सके’. कमाल के इंसान थे ये लोग जिनकी वजह से आज दुनिया का कायाकल्प हो गया।

और ये सब इसीलिए हो पाया क्योंकि इनलोगो ने कभी भी प्रयास करना बंद नहीं किया ये बात सही है की अपने टार्गेट्स अचीव करने में हमे बहुत सी मुसीबतो और असफलताओ का सामना करना पड़ता है लेकिन सफलता मिलने  की जो असली वजह होती है वो है प्रयास करते रहना।

दोस्तों इस पोस्ट के कमैंट्स के माध्यम से  बताइये कि आपकी लाइफ में ऐसे कितने मौके आये कि जब आपने सोचा भी नहीं था और सिर्फ एक प्रयास करने की वजह से आपका काम हो गया।

Please follow and like us:
error0

You may also like...