Risk must be taken

रिस्क तो लेना पड़ेगा

दोस्तों  हममे से कितने ऐसे लोग है जिनके पास उनकी पूरी जिंदगी की  मेहनत की कमाई हुई पूँजी हो और उस पूरी पूँजी को फिर से लगा देने का रिस्क लेंगे, और वो भी ऐसे काम में जिसे आजतक किसी ने नहीं किया और पता भी नहीं की सफल होंगे भी या नहीं, मुझे लगता है 1 या 2 % लोग ही ये रिस्क उठाएंगे, ज़्यादातर तो उस पैसे को ऐसी जगह रखने या लगाने की कोशिश करेंगे जहाँ वो ज्यादा बढे भी नहीं तो कम न हो।  

एलोन मस्क का उदाहऱण 

लेकिन एलोन  मस्क शायद किसी और ही मिटटी का बना इंसान है।  एलोन मस्क ने जब Paypal को छोड़ा तो उन्हें उनकी हिस्सेदारी के 165 मिलियन डॉलर मिले, उनकी जगह कोई और होता तो इतने पैसे के साथ आपकी पूरी जिंदगी ऐशो-आराम से काट सकता था, लेकिन  इस इंसान ने ऐसा नहीं किया और उसने अपनी जिंदगी का सबसे बड़ा रिस्क लिया और अपना सारा पैसा अलग अलग प्रोजेक्ट्स में इन्वेस्ट कर दिया। और हालात यहाँ तक पहुँच गए की किराए के मकान में रहना पड़ा।  spacex जोकि उनका सबसे सफल प्रोजेक्ट साबित हुआ उसमे उन्होंने अपना अधिकतर पैसा लगाया, और किस वजह से क्योंकि उनको लगता है की इंसान को मंगल गृह पर बसाया जा सकता है। और जब खुद के पैसो से बनाये हुए रॉकेट्स को लगातार 3 बार स्पेस तक नहीं पहुंचा पाया और कंगाली के कगार पर आ गया तब भी ये इंसान एक बार खुद खड़ा हुआ और फिर से एक प्रयास करने की ठानी और वो भी ऐसी स्थति में जब 3 असफलताओ का प्रेशर और धन की  कमी हो। लेकिन उसको कही न कही पता था की रिस्क न लेना ही सबसे बड़ा रिस्क है। और आगे की सफलता की आपको पता ही है।

और भी बहुत उदाहऱण है

दोस्तों एलोन मस्क ही नहीं दुनिया में ऐसे बहुत से उदाहरण है जिनसे आपको पता चलता है की लोगो ने कैसी कैसी विकट परिस्थितियों का सामना किया बहुत बड़े रिस्क लिए और सफलता के झंडे गाड़ दिए।

अब चाहे बिलगेट्स हो या अम्बानी, अमिताभ बच्चन हो या सिवेस्टर स्टेलोन इन सब की कहानी एक ही है इन लोगो ने अपनी  लाइफ में बड़े रिस्क लिए और डेडिकेटिडली अपने काम को करते हुए अपना बेस्ट दिया।

दोस्तों हम सब की लाइफ में भी इस तरह के वाकये होते रहते है आपने अक्सर अपने बड़े बुजुर्गो को कहते हुए सुना होगा कि काश हम उस समय हम ये जगह खरीद लिए होते, हमारे पास तो पैसे भी थे। लेकिन उस समय यहाँ कोई नहीं रहता था कोडियो  के दाम में जगह मिल रही थी लेकिन फिर भी नहीं ले पाए। इसका सीधा सा कारण था कि उन्हें एक सुनसान जगह में पैसा लगाने में फायदा नहीं दिखाई दिया और आगे आने वाले समय के लिए रिस्क नहीं लेना चाहते थे।


हमारा मन बड़ा ही अजीब होता है

दोस्तों हमारा मन बड़ा ही अजीब होता है। वह कि‍सी भी परि‍स्‍थि‍ति‍ को लेकर अलग-अलग तरह के वि‍चार आपके सामने रख देता है। इनमें से कई वि‍चार जोखि‍म भरे रहते हैं। इन वि‍चारों की तरु हम ध्‍यान नहीं देते। सफल व्‍यक्ति‍ वही होता है जो इस तरह के वि‍चारों को भी ध्‍यान में रखता है और जब परि‍स्‍थि‍ति‍याँ इस प्रकार की आती है तो उन्‍हें अमल में लाता है।


समय पर सही जोखिम उठाने में कोई बुराई नहीं है

यह बात सच है लेकि‍न इस जोखि‍म को उठाने की हि‍म्‍मत करना प्रत्येक के बस की बात नहीं है। इस कारण जोखि‍म उठाने के अवसर को अपने हाथ से जाने नहीं देना चाहि‍ए।

जिंदगी में ऐसे कई मौके आते हैं जब आप जोखिम उठाने से पीछे हटे हैं और बाद में आप को यह एहसास होता है कि काश मैं उस समय सही निर्णय ले पाता। यह बात अक्सर सभी के साथ होता है। इस कारण सही समय पर सही जोखिम उठाने में कोई बुराई नहीं है और ना ही इससे आपके जॉब और करियर पर असर पड़ेगा।

Please follow and like us:
error0

You may also like...